समास एवं समास के भेद (Samas in Hindi Grammar With Example)

Samas Definition in Hindi (समास की परिभाषा)

दो या दो से अधिक शब्दों का अपने विभक्ति-चिह्नों को छोड़कर आपस में मिलना ‘समास’ (Samas) कहलाता है, अथवा, परस्पर सम्बंधित शब्दों के मेल की प्रक्रिया समास कहलाती है।
अथवा,
दो या अधिक शब्दों का परस्पर सम्बन्ध बतानेवाले शब्दों अथवा प्रत्ययों का लोप होने पर उन दो या अधिक शब्दों से जो एक स्वतंत्र शब्द बनता है, उस शब्द को सामासिक शब्द कहते हैं और उन दो या अधिक शब्दों का जो संयोग होता है, वह समास कहलाता है ।
जैसे-
हाथ के लिए कड़ी = हथकड़ी
गोशाला-गाय के लिए शाला
पुत्रशोक-पुत्र के लिए शोक

Samas ke Bhed:

1. Avyayi Samas (अव्ययी समास)

2. Tatpurush Samas (तत्पुरुष समास)

a. Karmdharay Samas (कर्मधारय तत्पुरुष समास)

b. Dvigu Samas (द्विगु तत्पुरुष समास)

3. Bahuvrihi Samas (बहुव्रीहि समास)

4. Dvandav Samas (द्वन्द्व समास)

5. Nay Samas (नञ्। समास)

Upsarg in Hindi Grammar (उपसर्ग)

Upsarg Definition in Hindi (उपसर्ग की परिभाषा)-

जो शब्दांश मूल शब्द के पहले जुड़कर उसके अर्थ में परिवर्तन कर देते हैं, अथवा विशेषता उत्पन्न कर देते हैं, उन्हें




‘उपसर्ग’ (Upsarg) कहते हैं।

उपसर्ग भाषा के सार्थक लघुतम खंड होते हैं जो हमेशा मूल शब्दों के पहले जुड़ते हैं।
उपसर्गों का स्वतंत्र रूप से प्रयोग नहीं होता। इनके प्रयोग से मूल शब्द के अर्थ में परिवर्तन हो जाता है या विशेषता उत्पन्न हो जाती है;
जैसे

उपसर्ग + मूल शब्द = नया शब्द
दुर् + आशा = दुराशा
उप + कार = उपकार
अभि + नेता = अभिनेता

Hindi ke Upsarg (हिंदी के उपसर्ग)
Sanskrit ke Upsarg (संस्कृत के उपसर्ग)
Urdu ke Upsarg (उर्दू के उपसर्ग)
English ke Upsarg (अंग्रेजी के उपसर्ग)