Samas Definition (समास की परिभाषा) –

दो या दो से अधिक शब्दों का अपने विभक्ति-चिह्नों को छोड़कर आपस में मिलना ‘समास’ कहलाता है ।
रसोई के लिए घर = रसोईघर हाथ के लिए कड़ी = हथकड़ी समस्तपद शरण में आगत = शरणागत

समास की निम्नलिखित विशेषताएँ हैं-
(1) समास में कम-से-कम दो पदों का योग होता है ।
(2) वे दो या अधिक पद एक हो जाते हैं ।
(3) इन कई पदों के बीच के विभक्ति चिह्नों का लोप हो जाता है ।
(4) इस प्रकार के शब्द को समस्त शब्द या सामासिक शब्द कहते हैं ।
(5) समस्त शब्दों में कभी दोनों पद, कभी पहला पद, कभी दूसरा पद और कभी दोनों को छोड़कर अन्य पद प्रधान होता है ।

हिंदी व्याकरण | संज्ञा | सर्वनाम | विशेषण | क्रिया | क्रियाविशेषण | वाच्य | अव्यय | लिंग | वचन | कारक | काल | उपसर्ग | प्रत्यय | समास | संधि | पुनरुक्ति | शब्द विचार | पर्यायवाची शब्द | अनेक शब्दों के लिए एक शब्द | हिंदी कहावत | हिंदी मुहावरे | अलंकार | छंद | रस

1 Comment on Samas in Hindi (समास | Compound)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *