द्वंद्व समास-(Dvandva Samas)




जिस समास में दोनों पद प्रधान हों, उसे द्वंद्व समास कहते हैं।
इस समास के विग्रह में- और, तथा, एवं, या, अथवा इत्यादि संयोजक शब्दों का प्रयोग होता है ।
जैसे-
गौरीशंकर-गौरी और शंकर,
मारपीट-मार या पीट,
अन्नजल-अन्न और जल, इत्यादि ।

Related Topics:
अव्ययी समास | तत्पुरुष समास | कर्मधारय तत्पुरुष समास | द्विगु तत्पुरुष समास | बहुव्रीहि समास | द्वन्द्व समास | नञ् समास






हिंदी व्याकरण | संज्ञा | सर्वनाम | विशेषण | क्रिया | क्रियाविशेषण | वाच्य | अव्यय | लिंग | वचन | कारक | काल | उपसर्ग | प्रत्यय | समास | संधि | पुनरुक्ति | शब्द विचार | पर्यायवाची शब्द | अनेक शब्दों के लिए एक शब्द | हिंदी कहावत | हिंदी मुहावरे | अलंकार | छंद | रस

English Grammar | Parts of Speech | Noun | Pronoun | Adjectives | Verb | Adverb | Preposition | Conjunction | Interjection | Tenses | Phrases | Clauses |

11 Comments on Dvandva Samas Definition & Examples (द्वंद्व समास)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *